बाबा रामदेव की सलाह- अनुलोम-विलोम व कपालभांति करें चिदंबरम

Published: Monday, Oct 03,2011, 14:59 IST
Source:
0
Share
बाबा रामदेव, पी चिदंबरम, योग, उत्‍तर प्रदेश, भ्रष्‍टाचार

योगगुरू रामदेव केन्द्र सरकार पर निशाना साधने से बाज नहीं आ रहे हैं। इन दिनों उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों में भ्रमण कर रहे रामदेव लगातार केन्द्र सरकार व उनके मंत्रियों के खिलाफ जहर उगल रहे हैं। फरूर्खाबाद में योगगुरू ने गृहमंत्री पी. चिदम्बरम पर आरोपों पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि अब श्री चिदम्बरम को योग की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि चिदम्बरम को अनुलोम विलोम व कपालभाति करना चाहिए। रामदेव ने कहा कि वर्तमान समय चिदम्बरम के लिए अनुकूल नहीं है ऐसे में उन्हें योग का सहारा लेना चाहिए।

बाबा रामदेव अब धीरे-धीरे सक्रिय राजनीति में आ रहे हैं। देश में होने वाली प्रत्येक राजनीति घटना पर योगगुरू प्रतिक्रिया दर्ज कराने की फिराक में रहते हैं। कुछ समय पूर्व दिल्ली के रामलीला मैदान में योग शिविर के दौरान रामदेव ने विदेशों में जमा कालेधन को वापस लाने की बात करनी शुरू की और उसके खिलाफ अनशन छेडऩे का ऐलान किया तो उन्हें केन्द्र सरकार की नाराजगी का सामना करना पड़ा।

देखते ही देखते पुलिस प्रशासन ने रामदेव को सरकार की ताकत का अहसास करा दिया। इसके बाद बाबा केन्द्र सरकार के खिलाफ मुखर होते चले गए। वर्तमान समय में बाबा रामदेव एक भी ऐसा मौका नहीं चूकना चाहते जब वह केन्द्र सरकार के खिलाफ कुछ बयानबाजी कर सकें। इन दिनों स्वामी रामदेव पी. चिदम्बरम के खिलाफ बयान दे रहे हैं।

उत्तर प्रदेश के फरूर्खाबाद जिले में दौरा कर रहे स्वामी रामदेव ने चिदम्बरम को सलाह दी कि अब उन्हें योग करने की आवश्यकता है। स्वामी रामदेव ने कहा कि पी. चिदम्बरम को देश में हो रहे भ्रष्टïाचार के बारे में पूरी जानकारी थी। उन्होंने कहा कि टू जी स्पेक्ट्रम के दौरान जो पैसों का लेनदेन हुआ चिदम्बरम को इसका पूरा ज्ञान था यदि वह चाहते तो शायद यह घोटाला न होता। उन्होंने कहा कि अब चिदम्बरम को अनुलोम विलोम के साथ कपालभाति का सहारा लेना चाहिए क्योंकि इसके द्वारा ही उन्हें इस मुसीबत से राहत मिल सकती है।

Comments (Leave a Reply)