सिमी की हिट लिस्ट पर साध्वी प्रज्ञा एवं मालेगांव धमाकों के अन्य आरोपी

Published: Sunday, Apr 08,2012, 22:41 IST
Source:
0
Share
साध्वी प्रज्ञा, मालेगांव, Sadhvi Pragya, Malegaon blast, SIMI, Colonel Prasad Purohit, Dayanand Pandey

प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन सिमी (वही जिसकी तुलना कांग्रेस महासचिव राहुल गाँधी ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से की थी) की हिट लिस्ट पर साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर, एवं मालेगांव धमाकों के दूसरे आरोपी कर्नल पुरोहित एवं दयानंद पाण्डेय हैं - इस आशय का समाचार एक सरकारी रिपोर्ट के आधार पर हिंदुस्तान टायम्स ने प्रकाशित किया है | यह सरकारी रिपोर्ट केंद्रीय एवं राज्य की गुप्त एजेंसियों द्वारा दी गयी सूचानायों के आधार पर तैयार की गयी है | रिपोर्ट के अनुसार सिमी इसके लिए अंडरवर्ल्ड से भी संपर्क साधने में लगा हुआ है |

Eng : Sadhvi Pragya and other Malegaon blast accused on SIMI's hit list

इससे पहले सिमी ने अयोध्या के श्रीरामजन्मभूमि विवाद पर निर्णय देने वाले अल्लाहाबाद उच्च न्यायालय के तीनों न्यायाधीशों को मारने की भी तैयारी की थी | गुजरात दंगों के आरोपी हिन्दू भी सिमी की हिट लिस्ट पर थे |  अभी मालेगांव धमाकों के तीनों आरोपी न्यायिक हिरासत में हैं |

पत्र में छपे समाचार के अनुसार सरकार की रिपोर्ट ये भी कहती है कि सिमी लगातार लश्कर, जैश आदि संगठनों से संपर्क में रहने की कोशिश करती है | सिमी का एक आतंकी मोहम्मद अज़ज़ुद्दीन नवम्बर २०१० में सउदी अरब गया था और वहाँ से बंगलादेश भी गया था | वो सउदी में जैश के कमांडर वाली हसन से मिला था |  

आईबीटीएल विचार -

१. इस समाचार का अर्थ है कि तमाम प्रतिबन्ध के बाद भी सिमी की गतिविधियाँ निरंतर जारी है | स्पष्ट है कि ये भारत माता के ही पूत हैं जो भारत में ही जन्में, पले बढे पर किन्ही कारणों से इन्हें भारत का ही विध्वंस करने अपने जीवन का लक्ष्य लगने लगा है | और इन्हें भारत के ही कुछ नागरिक संरक्षण एवं सहायता भी दे रहे हैं | सरकार को इस आतंकी संगठन के ढाँचे को यथाशीघ्र ध्वस्त करना चाहिए परन्तु सरकार तो स्वयं हिन्दू आतंक का हौवा खड़ा करने में जुटी है | संघ के समाचार पत्र ओर्गानायिज़र में छपे एक समाचार के अनुसार कांग्रेस-मुस्लिम लीग शासित केरल में तो जिहादी पुलिस तक में भर्ती हो गए हैं और डीएसपी तक बन बैठे हैं | शायद गठबंधन की मजबूरियों के चलते ऐसा हुआ हो |

२. और यह भी विचारणीय प्रश्न है कि साध्वी प्रज्ञा और दूसरे तथाकथित हिन्दू आतंकियों को मारने से सिमी को क्या लाभ होगा ? कहीं ऐसा तो नहीं कि मालेगांव धमाकों के कुछ रहस्य खुलने का दर सिमी को सता रहा हो |

Comments (Leave a Reply)