रंगे हाथों पकड़ा गया बैठक-कार्यवाही रिकॉर्ड करता टीम अन्ना सदस्य, टूट-फूट जारी

Published: Monday, Apr 23,2012, 01:04 IST
Source:
0
Share
team anna, core comittee, bhushan, shazia ilmi, kiran bedi, kejriwal, Mufti Shamim Qazmi, anna news

टीम अन्ना को पहले दिन से देश का एक वर्ग नक्सालियों और गद्दारों का जमावड़ा बता रहा है जिनके बीच में देशभक्त स्वयं अन्ना हजारे फँस गए हैं। चाहे बात भारत माता की तस्वीर को सांप्रदायिक कह कर हटाने की हो, या वन्दे मातरम को सांप्रदायिक समझकर छोड़ देने की और सेकुलर इन्कलाब जिंदाबाद अपनाने की, या जामा मस्जिद के इमाम के आगे माथा टेकने की या हिन्दू संगठनों के सहयोग की बात आते ही बिदक जाने की, या कश्मीर को तोड़ के अलग कर देने की कोशिश करने की, या बाबा रामदेव को नीचा दिखाने के लिए निरंतर प्रयास करते रहने की - एक एक करके टीम अन्ना के सदस्यों की सच्चाई सामने आती रही है।

पहले अग्निवेश की किसी कपिल नामक व्यक्ति के लिए की गयी जासूसी सामने आई थी, और अब अब नवीनतम कारनामा किया है टीम अन्ना की केंद्रीय समिति के एकमात्र मुस्लिम सदस्य मुफ्ती शमून काज़मी ने। जब टीम अन्ना नॉएडा में बाबा रामदेव के साथ फिर से आने के लिए चर्चा कर रही थी और आगे की रणनीति बना रही थी, तब ये महानुभाव बात-चीत अपने मोबाइल पर रिकॉर्ड कर रहे थे। उनके मोबाइल से ३ रेकॉर्डिंग बरामद की गयी। और सवाल करने पर उन्होंने बोला कि रेकॉर्डिंग "गलती से" हो गयी थी।

अधिक पूछने पर वे बिफर पड़े। अब काज़मी को टीम की कार्यवाही से अलग कर दिया गया है। बाहर आ कर काज़मी ने टीम अन्ना पर "मुस्लिम विरोधी" होने का आरोप लगा कर साम्प्रदायिकता की ओछी राजनीति भी शुरू कर दी। अभी ये स्पष्ट नहीं है कि काज़मी किसके इशारे पर ये सब कर रहा था।  टीम के एक और मुस्लिम सदस्य शाजिया इल्मी ने इसकी भर्त्सना की और कहा कि काज़मी ने कहा था कि वो ये इसलिए कर रहे थे क्यूंकि वो एक मुस्लिम हैं, जो कि घोर निंदनीय है।  

अन्ना की टीम ने दागी मंत्रियों को नोटिस भेजने एवं जून के अंत से पुनः राष्ट्रव्यापी आन्दोलन शुरू करने का मन बनाया है।

Comments (Leave a Reply)