ibtl blogs

  • राहुल कौशिक
  • विदेश नीति को वफादारी का औज़ार न बनाइये...

    Tuesday, Mar 12,2013, 08:11 IST .

    एक देश की विदेश नीति का आधार क्या होना चाहिए, यह सदा से ही बुद्धिजीवी समाज में एक चर्चा का विषय रहा है। संसार के किसी भी राष्ट्र के विदेश नीति के मानदंड सामान्यतया सत्ता परिवर्तन से निर्लिप्त रखे जाते हैं क्योंकि अंतर्राष्ट्रीय सम्बन्ध मूलतः सत्ताधारी दल की विचारधारा के बजाय एक सर्वमान्य नीति के आधार पर ही बनाये और चलाये जाते हैं। युधिष्ठिर द्वारा महाभारत में कहा गया एक वाक्य ‘वयं पंचाध..

  • सुदर्शन जी : जैसे मैंने देखे ...

    Saturday, Sep 15,2012, 22:43 IST .

    सुदर्शन जी नहीं रहे... अपनी शाखा से निकल कर एक कार्यकर्ता के घर पर जा कर बैठा ही था, कि ट्विटर पर एक सज्जन ने उनके निधन का दुखद समाचार बताया। स्तब्ध होना, शायद उस भाव को ठीक से अभिव्यक्त न कर पाए, जो मेरे मन में उस समय आया। अभी कुछ दिनों पहले ही तो उनके दर्शन किये थे, और उन्होंने सदा की तरह स्नेह से आशीर्वाद भी दिया था... अभी कुछ दिनों पूर्व ही तो जब उनके मंगलोर में गायब होने का समाचार मिला, ..

  • यू बाबा बावला है के?

    Thursday, Aug 09,2012, 08:16 IST .

    आजकल टीवी चैनलो पर बाबा रामदेव की बुराई करने का एक चलन सा चल निकला है। जो कोई चैनल आप चला दो, एक ही राग है-- बाबा चोर है, ठग है... धोखेबाज़ है, राजनीति करता है और न जाने क्या-क्या! कई बार तो ऐसा लगता है कि मान लो जैसे कि पाकिस्तान तो अब सुधर गया है और जरदारी साहब भारत को अपना बड़ा भाई मान बैठे हैं... असम से सारे बंगलादेशी घुसपैठिये वापिस लौट गए हैं... 7 रेसकोर्स से दूध की नदियाँ बह रही है... ..

  • अमे नरेन्द्र भाई ने दिल्ली नई मोकलिये

    Wednesday, Jun 06,2012, 09:13 IST .

    पिछले दिनों हरिद्वार जाने का अवसर लगा। महानगर की आपाधापी के बीच माँ गंगा का किनारा सदा से ही संतोष और आत्मिक शांति देता आया है। मन में आया, जा कर वहीँ बैठा जाए। पहुँच गए गंगा किनारे, नित अनुशासन में बहने वाली गंगा आज अतिशय वेगवान थी। स्तर मध्यम था, पर शीघ्रता से बढ़ रहा था। गंगा भगवत-चरणों से निकलती है, देश के बड़े हिस्से के लिए प्राणदायिनी का काम करती है, खेतो को सींचती है, कंठ को तारती है, ध..

  • पेट्रोल की कीमतों में अप्रत्याशित रूप से वृद्धि: महंगाई डायन खाय जात है

    Thursday, May 24,2012, 17:37 IST .

    केंद्रीय सरकार ने 23-24 मई 2012 की मध्यरात्रि से पेट्रोल की कीमतों में अप्रत्याशित रूप से 7.50 रुपये की वृद्धि करने की घोषणा कर दी है। दाम बढ़ने से पेट्रोल अब कोलकाता में 77.53 रुपए प्रति लीटर, दिल्ली में 73.14 रुपए प्रति लीटर, बेंगलुरु में 81 रुपए प्रति लीटर और मुंबई में 78.16 रुपए प्रति लीटर हो गया है। देश की जनसँख्या के लगभग ९५% हिस्से के लिए तो यह एक भयंकर दुस्वप्न से कम नहीं है| ऐसा माना..