आशाराम बापू ने राहुल गांधी का मजाक उड़ाया, कहा बबलू

Published: Sunday, Oct 09,2011, 22:40 IST
Source:
0
Share
आशाराम, बापू, राहुल गांधी, मजाक उड़ाया, कहा बबलू

मथुरा. आध्यात्मिक आशाराम बापू ने रविवार को मथुरा में प्रवचन करते हुए कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी का खूब मजाक बनाया। संत आशाराम ने राहुल गांधी को बबलू कहते हुए कहा कि है ये बबलू और देख रहा है देश का प्रधानमंत्री बनने का सपना।

दरअसल आशाराम बापू अपने अनुयायियों को संबोधित कर रहे थे। वो कर तो रहे थे धर्म की बातें लेकिन अचानक अन्ना हजारे के आंदोलन पर बोलते हुए उन्होंने कहा  कि अन्ना हजारे आठ दिन तक भूखे बैठे रहे तब इस बबलू को होश आया और संसद में बयान दिया।

फिर आशाराम मंच पर लगे एक स्तंभ के पास पहुंचे और स्तंभ को पुचकारते हुए कहा कि देखो कैसा बबलू है ये जो देश का प्रधानमंत्री बनने का सपना देख रहा है लेकिन आता जाता कुछ नहीं है।

राहुल पर निशाना साधते हुए आशाराम बापू ने कहा कि आठ-आठ दस-दस दिन बाद जो लिखा हुआ लैटर पढ़ता है वो त्वरित निर्णय की महिमा नहीं जान सकता है। आशाराम यहीं नहीं रुके। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि अन्ना के अनशन के दौरान किसी ने कांग्रेस महासचिव से पूछा कि आपकी राय क्या है तो बबलू बोले कि मैं सोच कर बोलता हूं। ये बबलू प्रधानमंत्री बनने का सपना देख रहा है।

गौरतलब है कि जब अन्ना हजारे अनशन पर थे तब राहुल गांधी ने चुप्पी साध रखी थी और संसद में ही अपनी चुप्पी तोड़ी थी।
 
संत आशाराम के इस अंदाज पर पलटवार करते हुए कांग्रेस ने कहा कि यदि बाबा को भी राजनीति करनी है तो सीधे तौर पर राजनीति में आए। बाबा के आश्रम में मृत पाए गए दो बच्चों की मौत पर सवाल उठाते हुए कांग्रेस ने कहा कि आशाराम को वो बच्चे बबलू नजर नहीं आए जिनकी उन्होंने बलि ले ली।
 
वैसे यह पहली बार नहीं है जब  राहुल गांधी को इस तरह का नाम दिया गया हो। इससे पहले बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान शरद यादव राहुल गांधी को बबुआ कहकर संबोधित कर चुके हैं। केरल चुनाव के दौरान केरल के पूर्व मुख्यमंत्री अच्यूतानंद ने उन्हें अमूल बेबी कहा था जिस पर काफी बयानबाजी हुई थी। यही नहीं उत्तर प्रदेश के समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खां ने उन्हें बाबा करार दिया था।

Comments (Leave a Reply)