श्री श्री मिले दिल्ली के 16 पुलिस स्टेशनों में नामदर्ज 1000 से भी ज्यादा दोषियों से ...

Published: Wednesday, Dec 05,2012, 15:41 IST
Source:
0
Share
श्री श्री, Sri Sri, 1000 delinquents, 16 Police Stations, Delhi, Yamuna Sports Complex, YLTP, sri sri ravishankar delhi visit, aol utthan, volunteer for better india, slums yatra, manavata yatra, mahesh giri

नई दिल्ली, 4 दिसम्बर 2012 : अपराध मुक्त समाज की परिकल्पना को साकार करने के उद्देश्य से आर्ट ऑफ़ लिविंग संस्था द्वारा एक क्रांतिकारी योजना ‘उत्थान’ का शुभारम्भ आर्ट ऑफ़ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर जी की उपस्थिति में किया गया।

In Eng : Sri Sri met 1000 delinquents enlisted in 16 Police ...
यह उत्थान परियोजना देश भर में आदर्श जिले बनाने के उद्देश्य से की गई एक नई पहल है, जिसके अंतर्गत सर्वप्रथम पूर्वी दिल्ली को चुना गया है। इस परियोजना का मुख्य उद्देश्य समाज का सशक्तिकरण व उत्थान करना है। इसके साथ-साथ ही कई ऐसी सह-योजना
ओं को सम्मिलित करना है जो कि समाज में एक सकारात्मक बदलाव ला सके। ऐसी ही एक योजना है दिशा । इस योजना को दिल्ली पुलिस के साथ मिलकर शुरू किया गया है जिसका लक्ष्य अपराध की जड़ तक पहुंचना और उसे सकारात्मकता के साथ समाप्त करना है।

sri sri aol utthan east delhi slums

प्रोजेक्ट दिशा में ईस्ट दिल्ली के 16 से ज्यादा जेलों में बंद अपराधियों तथा सूचीबद्ध अपराधियों ने यूथ लीडरशिप ट्रेनिंग प्रोग्राम के तहत कोर्स किया है। 200 से ज्यादा अपराधी शीघ्र ही आंतरिक रूपांतरण व सशक्त नेतृत्व के इस कोर्स को करने जा रहे हैं। इस प्रोजेक्ट का अहम पहलू अपराधिक गतिविधियों में लिप्त ऐसे लोगों का उत्थान करना है, ताकि वे स्वयं की जिम्मेदारियों को जागरूकता के साथ निभा सके और समाज, जिला व देश के निर्माण में अहम भूमिका निभा सकें।

श्री श्री ने पहले यूथ लीडरशिप प्रोग्राप की सफलतापूर्वक समाप्ति पर लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि सुधर चुके इन अपराधियों को ‘कर्णधार’ नाम दिया गया है। उन्होंने कहा कि आज के समय में उन लोगों को दूसरा मौका दिए जाने की आवश्यकता है जो किसी कारणवश अपराधिक गतिविधियों में लिप्त रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज सभी को अपना दृष्टिकोण व्यापक कर यह देखने की आवश्यकता है कि हर अपराधी कहीं न कहीं आंतरिक रूप से मदद के लिए पुकार रहा है। यदि आप किसी भी प्रकार से उनकी मदद कर पाएं तो आप इस पूरे संसार से अपराध को समाप्त कर सकते हैं।

sri sri aol utthan east delhi slums

सभी कर्णधार आंतरिक रूपांतरण के अपने अनुभवों को सांझा करने के लिए यमुना स्पोर्टस काम्प्लेक्स में एकत्रित हुए थे। वे वहां श्री श्री से रूबरू भी हुए और कैसे वे अपने संबंधित क्षेत्रों में सामुदायिक विकास कर सकते हैं, इस बारे में मार्गदर्शन भी प्राप्त किया।

आर्ट ऑफ़ लिविंग के इंटरनेशनल डायरेक्टर महेश गिरी जी ने भी इस अवसर पर सभी को सम्बोधित करते प्रोजेक्ट दिशा पर जोर देते हुए कहा कि जैसे कि नाम से ही विदित है, इस प्रोग्राम का उद्धेशय सही दिशा प्रदान करना है। कोई भी अध्यात्मिक रूप से जागृत मनुष्य अपनी अंतरात्मा की आवाज़ को नकारते हुए गलत कदम नहीं उठा सकता है। प्रेम, सत्य, अंहिसा और आत्म जागरूकता अपराध मुक्त समाज के स्तंभ हैं और हम भी इस कार्यक्रम के माध्यम से प्रेम, सत्य, अहिंसा और आत्म जागरूकता जैसे पहलुओं को जागृत करने का प्रयास कर रहे हैं।

प्रोजेक्ट दिशा,  दिल्ली पुलिस व गैर लाभकारी संगठन आर्ट ऑफ़ लिविंग के बीच बने तालमेल का एक विलक्षण उदाहरण है, जिसके तहत सभ्य समाज की ओर एक सकारात्मक कदम बढ़ाया गया है। आर्ट ऑफ़ लिविंग के सार्थक और प्रासंगिक हस्तक्षेप का उद्देश्य अनुशासनात्मक संगठन व लोगों के बीच की खाई को पाटना है।

sri sri aol utthan east delhi slums

प्रोजेक्ट उत्थान के प्रति समाज के सबसे निचले स्तर तक जागरूकता फैलाने के लिए आर्ट ऑफ़ लिविंग द्वारा 27 अक्तूबर 2012 से मानवता यात्रा भी शुरू की गई है। आने वाले साल में इस यात्रा के माध्यम से पूर्वी दिल्ली की 220 मलिन बस्तियों व निपटान क्षेत्रों का दौरा भी किया जाएगा। इस परियोजना को स्थिर गति प्रदान करने के लिए कई कार्यशालाए तथा प्रशिक्षण शिविरों की शुरूआत भी की जाएगी।

Comments (Leave a Reply)