अंधेर नगरी चौपट राजा? इंटेलिजेंस ब्यूरो से गायब हो चुके हैं २१०० मोबाईल ट्रैकर

Published: Thursday, May 24,2012, 15:38 IST
Source:
0
Share
Intelligence Bureau, snooping devices, surveillance, spy on targeted individuals, corporate espionage,

देश की सुरक्षा को चाक-चौबन्द रखने के लिए गुप्त जानकारियाँ जुटाने वाले इंटेलिजेंस ब्यूरो के हाल क्या हैं - इसकी बानगी इस स्वीकारोक्ति से मिलती है कि ब्यूरो से २१०० मोबाईल ट्रैकर गायब हो चुके हैं और उन्हें पता नहीं कि वे किसके पास हैं और कौन उनका कैसे इस्तेमाल कर रहा है। ब्यूरो पी चिदंबरम के गृह मंत्रालय का अंग है और चूंकि आज कल मंत्री जी स्वयं स्वामी की सुनामी से सकपकाए सर छुपाने में लगे हैं, तो ब्यूरो की सुध कौन ले।

ज्ञात हो कि भारत की गुप्तचर एजेंसी रॉ ने कुछ दिन पहले पाकिस्तान के ३ व्यापारियों को आतंकवादी बता दिया था, और बाद में माफ़ी मांगनी पड़ी थी।

अब एक प्रश्न ये भी उठता है कि क्या सत्तारूढ़ दल के लोग इस में शामिल हैं और किसी प्रकार से विपक्ष के नेताओं अथवा भ्रष्टाचार के विरुद्ध लड़ रहे लोगों के विरुद्ध उसका प्रयोग कर रहे हैं? कोई सामान्य चोर तो इंटेलिजेंस ब्यूरो में घुस के चोरी करेगा नहीं। तो क्या ब्यूरो के ही कर्मचारी अधिकारी वो यन्त्र बाहर बेच रहे हैं?

मजे की बात ये है कि सरकार ने ये यन्त्र ४ साल पहले आयात करवाए थे और जिन लोगों से खरीदे थे, उनके नाम-पते भी नकली थी। नकली लोगों से भारत सरकार ने इंटेलिजेंस ब्यूरो के लिए यन्त्र खरीदे - अंधेर नगरी चौपट राजा से बेहतर कोई और कहावत इस स्थिति को बयान कर सकती है क्या?
 
(इंडिया टुडे के समाचार पर आधारित)

Comments (Leave a Reply)