चिदंबरम के बाद अब निशाने पर वाड्रा, जुटा रहा हूं सबूत : सुब्रह्माण्यम स्वामी

Published: Sunday, Oct 02,2011, 15:41 IST
Source:
0
Share
पी. चिदंबरम, डा. सुब्रहमण्यम स्वामी, सोनिया गांधी, राबर्ट वाड्रा, 2 जी घोटाले

2जी घोटाले में केंद्रीय गृह मंत्री पी. चिदंबरम के बाद डा. सुब्रहमण्यम स्वामी के निशाने पर संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद राबर्ट वाड्रा होंगे। जनता पार्टी अध्यक्ष डा. स्वामी ने शनिवार को कहा कि 2जी में चिदंबरम के बाद वह इसमें वाड्रा की संलिप्तता का खुलासा करेंगे।

डा. स्वामी ने यहां पत्रकार वार्ता में कहा कि डा. स्वामी ने कहा कि चिदंबरम के बाद 2 जी मामले में वह राबर्ट वाड्रा की संलिप्तता का खुलासा करेंगे। इस बारे में अधिक जानकारी देने से इंकार करते हुए स्वामी ने कहा कि वह वाड्रा के खिलाफ सबूत जुटा रहे हैं। बकौल स्वामी जब-जब उन्होंने भ्रष्ट लोगों का पर्दाफाश करने का प्रयास किया, उनकी निष्ठा पर सवाल उठाए गए।

2 जी घोटाले में जब उन्होंने ए. राजा का नाम लिया, तो दलित विरोधी कहा गया। इसी तरह जब कनीमोरी इस घोटाले में गिरफ्तार हुईं तो महिला विरोधी करार दे दिया गया, लेकिन मैंने दस्तावेजी सबूतों से अपने आरोपों को साबित किया। उन्होंने कहा कि 2 जी मामले में चिदंबरम उतने ही दोषी हैं जितना ए. राजा। इससे संबंधित दस्तावेजी साक्ष्य उन्होंने कोर्ट में जमा किए हैं।

चिदंबरम को इस मामले सह आरोपी बनाया जाना चाहिए। स्वामी ने कहा कि 2 जी लाइसेंस को नियमानुसार तीन वर्ष में नहीं बेचा जा सकता था, लेकिन कंपनियों ने 16 गुना ज्यादा दाम पर उनके शेयर बेचे हैं। वह 2 जी मामले में चिदंबरम की भूमिका की सीबीआइ जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट गए हैं।

स्वामी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में सीबीआइ, चिदंबरम का बचाव इसलिए कर रही है क्योंकि सीबीआइ में आइपीएस होते हैं जिनकी सीआर वहीं से लिखी जाती है इसलिए चिदंबरम पहले पद से हटें। उन्होंने कहा, भले ही मीडिया में 2जी मामले में मेमोरेंडम पर प्रणब तथा चिदंबरम के बीच चल रहे मामले को शांत बताकर चिदंबरम को बचाया जा रहा है, लेकिन वह बचने वाले नहीं है। एक सवाल पर डा. स्वामी ने कहा कि वह सीएजी रिपोर्ट को नहीं जानते।

उन्होंने जो सूचनाएं हासिल कर कोर्ट में लगाई हैं उनसे साफ है कि चिदंबरम 2 जी में राजा के बराबर दोषी है। भ्रष्टाचार से निपटने के नए कानून के सवाल पर डा. स्वामी ने कहा ए.राजा व दयानिधि मारन आदि पर कार्रवाई से उन्होंने इस बात को साबित कर दिया है कि मौजूदा कानून ही पर्याप्त है।

डा. स्वामी ने कहा कि चुनाव में अब भ्रष्टाचार बड़ा मुद्दा होगा। उनका किसी घपले-घोटाले से ताल्लुक नहीं है। उन्होंने बताया उनकी पार्टी यूपी में भाजपा के साथ गठबंधन कर करीब 50 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ना चाहती है। यह भाजपा पर निर्भर करेगा कि वह क्या चाहती है।

Comments (Leave a Reply)