9/11 जैसा खतरा: मुंबई में मिसाइलें तैनात, वायुसेना-नौसेना भी तैयार

Published: Wednesday, Sep 14,2011, 12:08 IST
Source:
0
Share
महाराष्‍ट्र, हवाई अड्डों,मुंबई एयरपोर्ट, सीआईएसएफ,यूनिटों

मुंबई एयरपोर्ट पर 9/11 की तर्ज पर हमले की आशंका से जुड़ी खुफिया चेतावनी के बाद महाराष्‍ट्र के सभी हवाई अड्डों की सुरक्षा और बढ़ा दी गई है। किसी अनहोनी की आशंका के मद्देनजर मुंबई में तीन जगहों पर सतह से सतह पर मार करने वाली मिसाइलें भी तैनात की गई हैं। भारतीय वायु सेना और नौसेना के साथ साथ तटरक्षक बल को भी हाई अलर्ट पर रखा गया है।

आईबी की चेतावनी में कहा गया है कि मुंबई एयरपोर्ट पर आतंकी हमले का खतरा है। ऐसी आशंका है कि इस हमले के लिए छोटे विमानों का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसलिए छोटे विमानों को किराए पर देने के मामले में सतर्क रहने की चेतावनी दी गई है। अलर्ट में अधिकारियों से छोटे विमानों और हेलीकॉप्‍टरों को किराए पर लिए जाने, निजी हेलीपैड और बेकार हवाई अड्डों पर भी नजर रखने को कहा गया है। केंद्रीय खुफिया एजेंसी ने यह अलर्ट 9/11 की बरसी से पहले अमेरिकी एजेंसियों की ओर से मिली सूचना के बाद जारी किया है। अमेरिका की ओर से इस अलर्ट को अन्‍य देशों से भी साझा किया गया था।

चेतावनी दी गई है कि आतंकी एयरपोर्ट के कलिना गेट से घुसने की फिराक में है। इस गेट का इस्‍तेमाल अधिकतर वीवीआईपी मूवमेंट के लिए होता है। अलर्ट में कहा गया है कि आतंकवादी विस्‍फोटकों से लदे वाहन से विस्‍फोट कर गेट को उड़ा सकते हैं इसके बाद अन्‍य वाहनों में बैठे कुछ और आतंकी एयरपोर्ट में घुस सकते हैं। उड्डयन सचिव नंदकुमार जांत्रे के मुताबिक उन्‍हें केंद्र की ओर से एडवायजरी मिली है।

अलर्ट के मुताबिक अपहृत विमान को एयरपोर्ट पर उतरने की इजाजत मांगी जा सकती है और इसके बाद यह विमान एयरपोर्ट टर्मिनल की इमारत से टकरा जाएगा। हालांकि यह विमान लैंड भी कर सकता है और पैंसेजर टर्मिनल की ओर बढ़ता हुआ टकरा जाएगा।  एयरपोर्ट पर एक सूत्र ने बताया कि देश में कहीं भी खासकर मुंबई से उड़ान भरने वाले या लैंड करने वाले छोटे विमानों पर करीब से नजर रखी जा रही है।

देश में सभी हवाई अड्डों की सुरक्षा की जिम्‍मेदारी सीआईएसएफ के हवाले हैं। आतंकी हमलों की चेतावनी के बाद सीआईएसएफ ने मुंबई एयरपोर्ट की सुरक्षा और कड़ी कर दी है। एयरपोर्ट में प्रवेश करने और बाहर निकलने के गेट पर कड़ा पहरा है।
कम इस्तेमाल वाले छोटे एयरस्ट्रिप को लेकर भी सतर्क रहने की चेतावनी दी गई है। छोटे विमान से छत्रपति शिवाजी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर आतंकवादी हमले की आशंका के मद्देनजर एयरपोर्ट की सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। खुफिया एजेंसियों को जानकारी मिली है कि आतंकवादी छोटा विमान या हेलीकॉप्टर से देश के सबसे व्यस्त हवाई अड्डे को निशाना बना सकते हैं। केंद्र ने सभी राज्यों के पुलिस प्रमुखों से छोटे विमानों और निजी हेलीकॉप्टरों की कड़ी निगरानी करने को कहा है।

एडिशनल डीजीपी (कानून-व्‍यवस्‍था) सत्‍यपाल सिंह ने कहा कि राज्‍य के सभी हवाई पट्टियों पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है। आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक तलोजा, माध आइलैंड और सांताक्रूज स्थित एयर बेस को अलर्ट कर दिया गया है। नौसेना की पश्चिमी कमान के प्रवक्‍ता ने कहा कि वो सतर्कता बरत रहे हैं और आदेश मिलने पर जवाबी कार्रवाई के लिए तैयार हैं। मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट के जीएम (सिक्‍योरिटी) कर्नल विनायक सुपेकर बुधवार को गृह मंत्रालय के अधिकारियों के बैठक करेंगे और सिक्‍यूरिटी ड्रिल के बारे में योजना तैयार करेंगे।

खुफिया एजेंसियों की इन चेतावनी का इस वक्‍त खास महत्‍व है क्‍योंकि अमेरिका पर हुए भीषण आतंकवादी हमले को 10 साल हुए हैं। सुरक्षा बढ़ाने के लिए एजेंसियों को तीन दिनों में तीन अलर्ट जारी किए गए हैं। सूत्रों के मुताबिक आईबी की चेतावनी के मुताबिक अल कायदा ने छोटे विमानों और चार्टर विमानों से हमले की योजना बनाई है। कहा गया है कि अल कायदा पूरी दुनिया को यह संदेश देना चाहता है कि ओसामा बिन लादेन के मारे जाने के बाद भी आतंकी संगठन का वजूद मिटा नहीं है और वह कुछ भी कर सकता है।

दिल्‍ली में भी बढ़ी सुरक्षा
मुंबई, पुणे सहित मध्य प्रदेश के किसी एयरपोर्ट पर छोटे विमान से हमले की चेतावनी के बाद इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर भी सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। आपात स्थिति से निपटने के लिए एंटी हाईजैकिंग यूनिट, क्विक रिएक्शन टीम एवं कमांडोज को चौबीसों घंटे एयरपोर्ट पर तैनात रहने के लिए कहा गया है। इसके अतिरिक्त, प्रोफाइलिंग टीम की सक्रियता बढ़ाते हुए उसे एप्रोच रोड से लेकर सिक्योरिटी होल्ड एरिया तक सादे कपडों में तैनात कर दिया गया है। सीआईएसएफ के प्रवक्ता रोहित कटियार के अनुसार दिल्ली हाईकोर्ट में बम ब्लास्ट के बाद देश के सभी एयरपोर्ट की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाने के निर्देश जारी कर दिए गए थे। एयरपोर्ट पर तैनात सीआईएसएफ की सभी यूनिटों को नए सिरे से सुरक्षा समीक्षा कर सभी एहतियातन कदम उठाने को कहा गया है।
  

Comments (Leave a Reply)