गत माह गौ-हत्याओं में आई तेज़ी पर गौ-रक्षा दल सक्रिय, समस्त भारतवर्ष में गौ-रक्षा अभियान जोरों पर

Published: Friday, Sep 02,2011, 23:18 IST
Source:
0
Share
गौ हत्या, कानूनी जुर्म, गौ-हत्या, सफल प्रयास, लवी भरद्वाज, पिंकी चौधरी, रविन्द्र राठी

गौ हत्या न सिर्फ एक कानूनी जुर्म है बल्कि अपनी माँ के साथ भी दुर्व्यवहार के समान है... पिछले एक महीने में देश के बहुत से शहरों में गौ-हत्या को रोकने के सफल प्रयास हुए है...

केवल पंजाब में ही एक महीने में ३०० गौ-माताओं को गौ रक्षा दल ने बचाया... राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री सतीश जी का कहना है उनके दल के कार्यकर्ताओं ने बढ़-चढ़ कर इस पुण्य कार्य में अपना सहयोग दिया... परन्तु उनका सवाल यह है की अकस्मात ही गौ-माता की हत्यों में वृधि हुई है...

दिल्ली के सक्रिय संगठन राष्ट्रीय गौरक्षा सेना के अध्यक्ष श्री आशु मोंगिया जी ने कहा की... ईद से एक दिन पहले ही उन्होंने २५ गौ और १० बछियो को राष्ट्रवादी-धर्मिक संगठन 'प्रत्यंचा' के सहयोग से बचाया और गत माह १५० गौ-माताओं की रक्षा कर पुण्य कमाया...

वही दूसरी ओर हैदराबाद में भी श्री राम युवा सेना के श्री राजा भाई ने पिछले एक महीने मैं ४०० गौ-माताओं को बचाया है एवं सेवा के लिए उन्हें गौशाला भेजा गया...

दिल्ली में कृष्ण जन्म अष्ठमी के अवसर पर राष्ट्रीय गौरक्षा सेना द्वारा आयोजित गौ रक्षा संकल्प दिवस पर स्वामी प्रज्ञा नन्द जी का विचार है कि गौ-माता गंगा के सामान पवित्र है एवं गौ-मूत्र और गोबर का प्रयोग तो वेद एवं ग्रंथो में बताया गया है जब हर गांव तथा हर घर में गाय की रक्षा का संकल्प नहीं होता तब तक यह संघर्ष जारी रहेगा एवं वहां उपस्तिथ समस्त लोगों को गौ-रक्षा के लिए संकल्प भी कराया 

सभा में प्रत्यंचा के प्रभारी लवी भरद्वाज, पिंकी चौधरी और रविन्द्र राठी ने भी समस्त कार्यकर्ताओं एवं गौ-भक्तों को सम्बोधित किया।

─ तरुण अग्रवाल 

Comments (Leave a Reply)