ibtl blogs

  • अभिनव शंकर
  • भारत निर्माण या भारत निर्वाण?

    Tuesday, Jun 04,2013, 14:03 IST .

    इन दिनों चैनलों और समाचार पत्रों में "भारत-निर्माण" विज्ञापनों की धूम है। करीब 570 करोड़ के भारी भरकम बजट वाला ये विज्ञापन सरकार के कथित उपलब्धियों (??) को जन जन तक पहुँचाने के लिए विशेष रूप से तैयार किया गया है। इसका एक उद्देश्य ये भी है की सरकार द्वारा जन-साधारण के और कल्याण के लिए जो काम किये गए है उसकी जानकारी आम-जनों तक पहुचायी जा सके। वैसे ये बात दिलचस्प है की आम लोगों के कल्य..

  • चिट-फण्ड घोटाले पर मीडिया का पक्षपातपूर्ण रवैया

    Saturday, Apr 27,2013, 11:18 IST .

    चिट-फण्ड घोटाले मामले में आज कल चारो तरफ हडकंप मचा है। करीबन 5000 हज़ार करोड़ रूपये या शायद उससे भी ज्यादा के इस गोलमाल ने पश्चिम बंगाल के हज़ारों गरीबों की जिंदगियों को पटरी से ही उतार डाला है। इस मायने में ये घोटाला महज़ एक आर्थिक अपराध न होकर एक जघन्यतम कृत्य है जिसमे उनसे उनके मुंह का निवाला छिना गया है जो पहले से दो जून की रोटी नहीं जुटा पा रहे थे। मीडिया ने शुरुआत में तो इस मामले को बड़..

  • रक्त-रंजित इस्लामिक क्रांति का इतिहास एवं पुनर्जागरण...

    Sunday, Mar 03,2013, 01:45 IST .

    ईरान और अफगानिस्तान के इस्लामिक राज्य बनने के पहले की तस्वीरें विचलित कर देती हैं। एक अच्छी और फलफूल रही सभ्यता का अचानक से बर्बर आक्रमणकारियों के हत्थे चढ़ पूरी तरह खत्म हो जाना किसी भी सभ्य समाज के नागरिक को सकते में डाल सकता है। साथ ही इस बात की जरुरत को बताता है की इस तरह के चीजों के दोहराव से बचने के लिए इस बात पर सतत निगाह रखी जाये की विश्व में फिर ऐसी परिस्थितियाँ निर्मित न हो पाए और य..

  • हम हिन्दू अब आतंकवादी हो गये ...

    Friday, Jan 25,2013, 07:19 IST .

    जाँत-पाँत पर, ऊँच-नीच पर तोड़-तोड़ कर, परम्पराओं को, पुराणों को मोड़-मोड़ कर,

    पश्चिमीकरण की अखिल भारतीय आंधी चला, स्वदेशी को गाँधी की सती बना, चिता जला,

    नर-पिशाच वो खडे आज पहन खादी हो गये, हम हिन्दू अब आतंकवादी हो गये ...

     

    जिसके प्रतिष्ठा को लड़े-भिड़े, हुएँ खेत शिवाजी, जिसके लिए महाराणा हुएँ घास खाने को राजी,

    जिस लिए पृथ्वीराज ने न..

  • थोरियम घोटाला : पड़ताल एक कदम आगे ...

    Sunday, Dec 16,2012, 12:45 IST .

    पूर्व लेख में मुख्यतः इस घोटाले की 'परिकल्पना' बतायी गयी थी, पृष्ठभूमि समझाई गयी थी, बताया गया की कैसे अत्यधिक सुनियोजित, सामरिक रूप से अत्यंत संवेदनशील एवं राष्ट्र-कल्याणकारी योजना अंतराष्ट्रीय षड्यंत्रों का शिकार बनी। अब इस षडयंत्र को कैसे क्रियांवित किया आया गया इसकी बात करते हैं। किंतु उसके पूर्व इस घोटाले के अर्थशास्त्र पर पुनः दृष्टि डालते हैं- ४८ लाख करोड़ की हानि का जो आकलन अभ..

  • अथः श्री थोरियम घोटाला कथा और राम सेतु

    Wednesday, Sep 12,2012, 13:56 IST .

    संसद का मानसून सत्र समाप्त हो चुका है। कोयले घोटाले की आंच ने सरकार को संसद में बैठने नहीं दिया इस 1.86 लाख करोड़ के घोटाले ने हर भारतीय को झकझोर के रख दिया। पहली बार इतने बड़े घोटाले के विषय में..

  • सत्यमेव जयते एवं जिंदगी लाइव को भी है सुधार की आवश्यकता

    Wednesday, May 16,2012, 16:09 IST .

    कल 'सत्यमेव जयते' देख रहा था।हरीश अय्यर को देख थोडा अटपटा लगा। अभी अभी दो हफ्ते पहले उन्हें 'ज़िन्दगी लाइव' में देखा था- गे स्पेशल में। वहां ये कह रहे थे की बचपन से ही उन्हें और ल..